Kalpdroom Sutras Hindi

Kalpdroom Sutra 1001 Hindi

‘कल्पद्रुम सूत्र 1001’ स्वयं के ‘कल्पद्रुम’ से ‘प्रज्ञा–प्रकाश’ उत्पन्न होता है, की जिस से ‘कल्पशक्ति’ काम करती है. ‘कल्पशक्ति’ जैसे जैसे खिलती जाती है, वैसे वैसे ‘जीवन का ध्येय स्पष्ट’ होता जाता है, ओर ध्येय में ही ‘चित’ लगा रहता है, तब अपने आप ‘ध्यान’ उत्पन्न हो जाता है, की जो स्वयं के ‘ध्येय’ को पूर्ण करता है. ‘कल्पद्रुम एक ...

Read More »